Home » करियर » इस तरह करेंगे बात, तो मिलेगी मनचाही सैलरी

इस तरह करेंगे बात, तो मिलेगी मनचाही सैलरी

जब भी आप कहीं पर इंटरव्यू देने जाते हैं, अगर वहां पर आपका सलेक्शन हो जाता है तो फिर बात आती है आपकी सैलरी की। किसी भी इंटरव्यू में सैलरी नेगोसिएशन करना एक कला है। अगर आप इस कला में माहिर नहीं है तो आप कभी भी मनचाही सैलरी नहीं पा सकते। तो चलिए आज हम आपको कुछ ऐसे तरीके बता रहे हैं, जिनकी मदद से आप एक अच्छी सैलरी पर नौकरी प्राप्त कर सकते हैं-

सैलरी नेगोशिएशन के दौरान आप हाई सैलरी की डिमांड तभी कर सकते हैं, जब आप कंपनी एचआर को इस बात के लिए कन्वींस कर लेते हैं कि आप जितनी सैलरी के लिए डिमांड कर रहे हैं, आप वास्तव में उसके हकदार हैंं। इतना ही नहीं, आपको हायर करने के बाद उनकी कंपनी की ग्रोथ में सकारात्मक असर पड़ेगा।

कुछ लोग सैलरी की बात करते समय काफी हिचकिचाते हैं। ऐसे में आपके लिए सैलरी नेगोशिएट करना काफी मुश्किल होता है। इसलिए इस बारे में बात करते समय आपकी आवाज और हाव−भाव से आत्मविश्वास झलकना चाहिए।

सैलरी नेगोशिएशन के दौरान आप खुद ही अपनी सैलरी के बारे में बताएं। मसलनए आप इस जॉब से कितनी सैलरी की उम्मीद करते हैं। अगर कंपनी का एचआर आपको सैलरी ऑफर करता है तो आपके लिए सैलरी नेगोशिएशन की संभावना काफी कम हो जाती है और आपको कम सैलरी में ही संतुष्ट होना पड़ता है। साथ ही जब कंपनी आपसे नेगोशिएट करे तो आप कभी भी तुरंत हां न कहें, भले ही आपको वह ऑफर पसंद आए।

सैलरी नेगोशिएट करते समय आप भूलकर भी अपनी पर्सनल प्राॅब्लम डिस्कस न करें। इससे आपकी नकारात्मक छवि बनती है। याद रखिए कि कोई भी कंपनी आपकी पर्सनल प्राॅब्लम को देखकर नहीं, बल्कि आपकी क्षमताओं के आधार पर ही सैलरी आॅफर करती है।

जिस तरह इंटरव्यू से पहले आप सवालों के जवाब की तैयारी पहले से करते हैं। ठीक उसी दौरान, सैलरी नेगोशिएशन के लिए पहले से ही कुछ रिसर्च करनी आवश्यक है। आप जिस पद के लिए सलेक्ट हुए है, आपको उस पद पर मिलने वाली सैलरी की पूरी जानकारी होनी चाहिए। साथ ही आप कंपनी के स्टेटस के बारे में भी पहले ही पता कर लें। कंपनी की आर्थिक स्थिति से भी आपकी सैलरी काफी हद तक प्रभावित होती है।

सम्मोहन की दिशा में भी बना सकते हैं करियर, जानिए कैसे

Loading...