Home » जोक्स » भीख मांगने के लिए दफ्तर खोलूं…

भीख मांगने के लिए दफ्तर खोलूं…

गंजा आदमी- मेरे सिर पर तो बहुत कम बाल है , तुम्हें तो बहुत कम पैसे लेने चाहिए |

नाई- साहब ! मैं आपसे बाल काटने के पैसे नहीं लेता हूं बल्कि बाल ढूंढने के पैसे लेता हूं |

???????????????????

पिता- ऐसी कोई चीज हो सकती है जो बम्बई से मद्रास तक बिना हिले -डुले पहुंच जाए?

पुत्र -जी हां , रेलवे लाइन |

???????????????????

भिखारी -साहब , 50  पैसे दे दो कुछ खा लूंगा |

साहब – शर्म नहीं आती तुम्हें , सडक पर खडे होकर भीख मांगते हो |

भिखारी -तो क्या दफ्तर खोल लूं ?

बताओ मेरी उम्र कितनी है?

इस जन्म में पीछा छोडोगी , तब ही अगले जन्म में मिल सकोगी..

Loading...