Home » लाइफस्टाइल » जानें लौंग के अन्य और फायदें

जानें लौंग के अन्य और फायदें

तीखी लौंग है बड़े काम की चीज, इन रोगों में करती है दमदार दवा-सा असर लौंग औषधीय गुणों का खजाना है। यह कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, वाष्पशील तेल, वसा जैसे तत्वों से भरपूर है। इसके अलावा लौंग में खनिज पदार्थ, हाइड्रोक्लोरिक एसिड में न घुलने वाली राख, कैल्शियम, फॉस्फोरस, लोहा, सोडियम, विटामिन सी और ए भी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है।इन गुणों के कारण यह घर का डॉक्टर साबित होती है। लौंग एक ऐसा मसाला है, जिसे उसके जबरदस्त फ्लेवर के कारण जाना जाता है। खाने के जिस भी व्यंजन में इसे मिलाया जाता है, उसका स्वाद कई गुना बढ़ जाता है। एंटी-सेप्टिक गुणों के कारण लौंग चोट, खुजली और संक्रमण में काफी उपयोगी होती है। इसका उपयोग कीटों के काटने या डंक मारने पर भी किया जाता है। इसे किसी पत्थर पर पानी के साथ पीस कर काटे गए या डंक वाले स्थान पर लगाना चाहिए, काफी लाभ होता है।लौंग सेंककर मुंह में रखने से गले की सूजन और सूखे कफ का नाश होता है।

सिर दर्द में कारगर :-

सिर दर्द में भी लौंग काफी कारगर है। लौंग को पीस कर सिर पर लेप करने से दर्द में राहत मिलती है। लौंग के तेल में नमक मिला कर सिर पर लगाने से ठंडक का अहसास होता है।

एसिडिटी ठीक होती है :-खाना खाने के बाद 1-1 लौंग सुबह-शाम खाने से एसिडिटी ठीक हो जाती है।15 ग्राम हरे आंवले का रस, पांच पिसी हुई लौंग, एक चम्मच शहद और एक चम्मच चीनी मिलाकर रोगी को पिलाएं। इससे एसिडिटी में राहत मिलती है। लौंग का गर्म पानी से फांक लेंने से बुखार दूर होता है :- एक लौंग पीस कर गर्म पानी से फांक लें। इस तरह तीन बार लेने से सामान्य बुखार दूर हो जाएगा।चार लौंग पीस कर पानी में घोल कर पिलाने से बुखार ठीक हो जाता है। लौंग दमा रोगियों के लिए वरदान :- लौंग दमा रोगियों के लिए वरदान की तरह है। दमे से पीड़ित व्यक्ति को लौंग की पांच कलियों को 30 मिलीलीटर पानी में उबाल कर काढ़ा बना कर शहद के साथ दिन में तीन बार पिलाएं, काफी लाभ होगा।

गर्भवती स्त्री के फायदेमंद है:-

गर्भवती स्त्री को यदि ज्यादा उल्टियां हो रही हों, तो लौंग का चूर्ण शहद के साथ चटाने से लाभ होता है।यदि जी मिचला रहा हो तो 2 लौंग पीस कर आधा कप पानी में मिला कर गर्म करके पीने से लाभ होगा।

लौंग के तेल से पेट दर्द ठीक होता है :-

मिश्री पर डालकर लेने से पेट दर्द में लाभ होता है।लौंग आंखों व दांतों के लिए बहुत लाभदायक है। दर्द के समय एक लौंग मुंह में रख लें और उसके मुलायम होने के बाद हल्के-हल्के चबाएं तो दांत दर्द बंद हो जाएगा।लौंग का चूर्ण और हल्दी मिलाकर लगाने से नासूर मिटता है।

Loading...